Article of the Month - Astroindusoot

Astro Articles

धन तेहरस 5 नवम्बर को ये हैं खरीददारी के शुभ मुहूर्त और इस शुभ मुहूर्त में करें धन तेहरस पूजा

हिन्दू वैदिक पंचांग के अनुसार कार्तिक मास के कृष्ण पक्ष की त्रियोदशी तिथि को धन-त्रियोदशी या धनतेहरस के रूप में मनाया जाता है इस बार धनतेहरस का पर्व 5 नवम्बर सोमवार के दिन मनाया जायेगा, धनतेहरस को समृद्धि प्रदान करने वाला दिन माना गया है क्योंकि इस दिन समुन्द्र से भगवान् धन्वतरि अमृत से भरा स्वर्ण कलश और स्वर्ण रजत आभूषणों के साथ प्रकट हुए थे भगवान् धन्वंतरि के प्राकट्योत्सव के रूप में ही इस पर्व का नाम धन त्रियोदशी और धनतेहरस पड़ा, धनतेहरस का सम्बन्ध जीवन की धन और समृद्धि से जोड़ा गया है , इसी लिए धनतेहरस के दिन नए बर्तन, सोना, चाँदी और आभूषणों को खरीदना बाहुत शुभ और समृद्धि देने वाला माना गया है प्राचीन मान्यताओं के अनुसार धनतेहरस पर की गयी खरीददारी से घर की समृद्धि में तेरह गुना वृद्धि होती है इस लिए धनतेहरस पर नवीन वस्तुओं को घर में लाना बहुत ही शुभ और समृद्धि देने वाला माना गया है, इसके अलावा धनतेहरस का दिन एक परमसिद्ध मुहूर्त भी होता है अतः इस दिन नये कार्यों का आरंभ (ऑफिस ओपनिंग, नीवपूजन, गृहप्रवेश, नए घर की बुकिंग, बिजनेस डील आदि) और नए वाहन की खरीददारी भी बहुत शुभ मानी गयी है

धनतेहरस का दूसरा महत्व यम दीपदान को लेकर है इस दिन संध्या के समय प्रदोषकाल में मुख्यद्वार पर यमराज के निमित्त दीप प्रज्वलित किया जाता है और स्वस्थ व दीर्घायु की कामना की जाती है धनतेहरस के दिन संध्याकाल में यम-देव के निमित्त दक्षिण दिशा की और दीप प्रज्वलित करने से परिवार के सदश्यों की अकाल मृत्यु और दुर्घटनाओं से रक्षा होती है तथा दीर्घायु प्राप्त होती है।

इस बार धन-तेहरस पर खरीददारी के शुभ मुहूर्त -

वैसे तो धन तेहरस का पूरा दिन शुभ होता है पर इस दिन ख़ास तौर पर स्थिर लग्न और शुभ चौघड़ियाँ मुहूर्तों में खरीददारी करना बहुत शुभ होता है। इस बार 5 नवम्बर धनतेहरस के दिन सुबह 9 बजे से 10:46 बजे के बीच खरीददारी के लिए बहुत शुभ समय होगा इसमें स्थिर लग्न और शुभ चुघड़िया मुहूर्त होगा, इसके बाद दोपहर 1:13 से शाम 5:25 के बीच भी स्थिर लग्न और चार लाभ अमृत के शुभ मुहूर्त होने से ये समय भी खरीददारी के लिए बहुत शुभ होगा, इसके बाद शाम को 6 बजे से 7:58 के बीच के बीच का समय भी स्थिर लग्न होने से खरीददारी के लिए शुभ होगा।

खरीददारी के शुभ मुहूर्त –

सुबह 9 बजे से 10:46 बजे

दोपहर 1:13 से शाम 5:25 बजे

शाम 6 बजे से 7:58 बजे

धनतेहरस पूजा का शुभ समय - 5 नवम्बर धन तेहरस को शाम 6 बजे से 7:58 बजे के बीच स्थिर लग्न (वृष) रहेगी इस समय में की गयी पूजा का फल अचल और हमेशा स्थिर रहने वाला होता है इसलिए धनतेहरस को शाम 6 से 7:58 के बीच धनतेहरस पूजा करें।

विधि - अपने पूजास्थल में चावल या गेहूं की एक छोटी ढेरी बनाकर उस पर देसी घी का एक दिया जलाकर रखें फिर माता लक्ष्मी का ध्यान करते हुए तीन बार श्रीसूक्त का पाठ करें इससे माँ लक्ष्मी की कृपा होगी और आपके जीवन में समृद्धि बढ़ेगी।
।। श्री हनुमते नमः।।

अगर आप अपने जीवन से जुडी किसी भी समस्या किसी भी प्रश्न जैसे – हैल्थ, एज्युकेशन, करियर, जॉब मैरिज, बिजनेस आदि का सटीक ज्योतिषीय विश्लेषण और समाधान लेना चाहते हैं तो हमारी वैबसाईट पर Online Consultation के ऑप्शन से ऑनलाइन कंसल्टेशन लेकर अपनी समस्या और प्रश्नो का घर बैठे समाधान पा सकते हैं अभी प्लेस करें अपना आर्डर कंसल्ट करें ऑनलाइन

ऑनलाइन कंसल्टेशन की जानकारी के लिए हमारे कस्टमर केयर या वाट्सएप्प नंबर पर भी बात कर सकते हैं

Customer Care – 9027498498

WhatsApp - 9068311666





ASTRO ARTICLES