Article of the Month - Astroindusoot

Astro Articles

Aaj Ka Choghadiya | Today's Choghadiya | Chogadia table | Aaj Ka Chaughadiya Muhurat | Shubh Muhurat

choghadiya, choghadiya in hindi, aaj ka choghadiya, Today's choghadiya, chogadia, choghadiya, chaughadia, choghadiya, chogadia table, choghadiya table, chaughadia table, choghadiya table, amrit choghadiya, shubh choghadiya, labh choghadiya, char choghadiya, rog choghadiya, kaal choghadiya, udveg choghadiya, shubh muhurat

जैसा के आप जानते ही हैं के ज्योतिष शास्त्र में मुहूर्त का अपना एक बड़ा विशेष महत्त्व है और हमारे जीवन के छोटे बड़े सभी महत्वपूर्ण कार्यों के लिए हम एक विशेष शुभ मुहूर्त को निश्चित करके उस शुभ मुहूर्त में ही अपने महत्वपूर्ण कार्य करते हैं पर पूरे वर्ष या किसी पूरे महीने में पड़ने वाले शुभ मुहूर्तों के अलावा अपने दैनिक (रोजमर्रा के) कार्यों को करने के लिए जो बहुत विशेष मुहूर्त होते हैं जिसे हम "चौघड़िया मुहूर्त" के नाम से जानते हैं और इसमें ख़ास बात ये होती है के चौघड़िया मुहूर्त प्रतिदिन और एक दिन में भी प्रत्येक घंटे के हिसाब से बनते हैं जिससे हम अपने छोटे से छोटे कार्य के लिए भी प्रतिदन चौघड़िया मुहूर्त का उपयोग कर सकते हैं।

चौघड़िया मुहूर्त विशेष रूप से डेढ़ घंटे का एक विशेष शुभ समय होता है जिसमे लग्न नक्षत्र वार योग करण तिथि इन सबका समावेश होता है.. जैसे के 24 घंटे के समय को दिन और रात के 12 - 12 घंटे के दो भागों में बाटा गया है उसी तरह दिन और रात के इन बारह घंटो को भी डेढ़ डेढ़ घंटों के आठ भागों में बांटा गया है जिसे हम चौघड़िया मुहूर्त कहते हैं और इसी आधार पर प्रतिदिन आठ चौघड़िया मुहूर्त दिन में और आठ चौघड़िया मुहूर्त रात में होते हैं...... वैसे चौघड़िया मुहूर्त कुल सात होते हैं जिनके नाम हैं - चर, लाभ, अमृत, काल, शुभ रोग, उद्वेग जिनमे हर एक मुहूर्त का स्वामी ग्रह अलग होता है और जैसे चर का स्वामी है शुक्र लाभ का है बुध अमृत का चन्द्रमाँ काल का शनि शुभ का गुरु रोग का मंगल और उद्वेग का स्वामी है सूर्य...... और इसी आधार पर प्रत्येक दिन का पहला चौघड़िया मुहूर्त उस दिन के वार स्वामी का ही होता है जैसे के शुक्रवार को हमेशा दिन का पहला चौघड़िया चर चौघड़िया ही होता है और फिर इसी सीरीज में दिनभर सात चौघड़िया मुहूर्त होते हैं और आठवा चौघड़िया मुहूर्त फिर से वहीँ होता है जिससे दिन का आरम्भ हुआ था

सात चौघड़िया मुहूर्त में से शुभ चर लाभ अमृत इन चारों को शुभ और किसी भी कार्य की सफलता के लिए अच्छा माना गया है और रोग उद्वेग और काल को एक अशुभ या बाधक समय माना गया है इसलिए...... अपने किसी भी महत्वपूर्ण की सफलता के लिए शुभ लाभ अमृत या चर चौघड़िया मुहूर्त का प्रयोग करना चाहिए तथा उद्वेग काल और रोग चौघड़िया के समय में महत्वपूर्ण कार्य के लिए अवॉयड करना चाहिए।

चौघड़िया मुहूर्त के लाभ - आप अपने किस भी महत्वपूर्ण कार्य की सफलता या इसमें अच्छे परिणाम के लिए चौघड़िया मुहूर्तों का उपयोग कर सकते हैं क्योंकि शुभ चौघड़िया (शुभ लाभ अमृत चर) मुहूर्त में किये गए कार्य में अच्छी सफलता प्राप्त होती है - जैसे नीव पूजन, ऑफिस ओपनिंग, जॉब जोइनिंग, बिजनेस डील या अपने रोजमर्रा के महत्वपूर्ण कार्यों के लिए आप रोज पड़ने वाले चौघड़िया मुहूर्तों का उपयोग कर सकते हैं।

#AajKaChaughadiyaMuhurat #ChaughadiyaMuhurat #ChaughadiyaMuhuratKeLaabh #ChaughadiyaMuhuratToday #ChaughadiyaMuhuratThisMonth

।। श्री हनुमते नमः।।

अगर आप अपने जीवन से जुडी किसी भी समस्या किसी भी प्रश्न जैसे – हैल्थ, एज्युकेशन, करियर, जॉब मैरिज, बिजनेस आदि का सटीक ज्योतिषीय विश्लेषण और समाधान लेना चाहते हैं तो क्लिक करें ये लिंक -हमारी वैबसाईट पर Online Consultation के ऑप्शन से ऑनलाइन कंसल्टेशन लेकर अपनी समस्या और प्रश्नो का घर बैठे समाधान पा सकते हैं Customer Care & WhatsApp - 9068311666

ASTRO ARTICLES